Kosi Times
तेज खबर ... तेज असर

हमने पुरानी ख़बरों को archieve पे डाल दिया है, पुरानी ख़बरों को पढ़ने के लिए archieve.kositimes.com पर जाएँ।

- sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

जघन्य कांडों में वांछित पच्चीस हजार का ईनामी अपराधी आशीष कुमार को पुलिस ने किया गिरफ्तार

- Sponsored -

कोसी टाइम्स ब्यूरो मधेपुरा

मधेपुरा थानाक्षेत्र अन्तर्गत चन्द्रीका पब्लिक स्कूल के पास अपराधककर्मियों के द्वारा मनीष कुमार पिता भुपेन्द्र यादव सा०-गढ़िया भेलवा को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

इस संदर्भ में मृतक मनीष कुमार के परिजन द्वारा दिये गये आवेदन के आधार पर आशीष कुमार पिता-सिकन्दर यादव सा०-पिठाही वार्ड नं0-11 थाना व जिला-मधेपुरा सहित कुल 10 नामजद अपराधियों के विरुद्ध मधेपुरा थाना कांड सं०-06/24  दर्ज की गयी थी।

विज्ञापन

विज्ञापन

घटना में संलिप्त अपराधकर्मी की गिरफतारी हेतु पुलिस अधीक्षक मधेपुरा के द्वारा द्वारा अनुमण्डल अनुमण्डल पुलिस पदाधिकारी, सदर मधेपुरा क नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया था।

गठित विशेष टीम के द्वारा तकनीकी विश्लेषण एवं गुप्त सूचना के आधार पर लागातार छापामारी की जा रही थी, परंतु उक्त कांड के अभियुक्त फरार चल रहे थे जो कि पुलिस के लिए एक चुनौती बनी हुई थी। गठित टीम के द्वारा छापामारी के दौरान 10.06.24 को गुप्त सूचना प्राप्त हुई कि उक्त कांड में संलिप्त कुख्यात अपराधकर्मी आशीष कुमार पिता-सिकन्दर यादव अपने सहयोगी के साथ ग्राम गड़िया स्थित दीपक कुमार पिता-राजदीप यादव के घर के निकट इकट्ठा हुए है। तत्पश्चात् गठित टीम के द्वारा इसकी सूचना वरीय पदाधिकारी को देते हुए पुलिस अवर निरीक्षक इंद्रजीत तांती ,सिपाही-10 सोमू कुमार ,सिपाही -15 सिपुल कुमार ,सिपाही -351संतोष कुमार यादव ,सिपाही -349 संतोष कुमार के साथ ग्राम गढ़िया पहुँचकर विधिवत घेराबंदी कर कुख्यात अपराधकर्मी आशीष कुमार उम्र करीब 24 वर्ष पिता-सिकन्दर यादव सा०-पिठाही वार्ड नं0-11 थाना व जिला-मधेपुरा को एक लोडेड देशी कट्टा अनलोड करने पर एक जिन्दा गोली के साथ गिरफ्तार किया गया। इस संदर्भ में मधेपुरा थाना काण्ड  सं0-637/24 दर्ज किया गया।

गिरफ्तार कुख्यात अपराधी आशीष कुमार पिता-सिकन्दर यादव के द्वारा पूर्व में लूट हत्या, शस्त्र एवं नशीली दवाओं के कारोबार किये जाने जैसे कई अपराधिक घटना को अंजाम दिया जा चुका है। इसकी गिरफतारी मधेपुरा पुलिस को एक चुनौती बनी हुई थी तथा इनके उपर 25,000 हजार रूपये का ईनाम भी घोषित किया गया था। इनकी गिरफतारी से मधेपुरा थानाक्षेत्र सहित अन्य जिला में अपराधिक घटना में कमी आयेगी।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

आर्थिक सहयोग करे

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.